हिंदुओं के इस सावन में जहां हरिद्वार सहित अन्य तीर्थस्थलों पर कांवड़ियों का मेला लगा हुआ है। वहीं उनके साथ हो रहे दर्दनाक हादसों की खबरें भी लगातार सामने आ रही है। ऐसी ही एक दुखद खबर राज्य के हरिद्वार जिले से सामने आ रही है जहां उत्तर प्रदेश एव हरियाणा के कांवड़ियों के मध्य हुए विवाद में एक कांवड़िए की बेरहमी से हत्या हो गई है।

बताया गया है कि मृतक एक फौजी था, जो सेना की जाट रेजीमेंट में तैनात था। बताया जा रहा है कि मृतक फौजी इन दिनों छुट्टीयों पर था और अपने साथियों के साथ कांवड़ लेने हरिद्वार आया हुआ था। मृतक फौजी की उम्र अभी महज 25 वर्ष बताई जा रही है। हादसे की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस विभाग की टीम ने मृतक फौजी के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस विभाग की टीम मामले की तहकीकात में जुट गई है। अभी तक पांच संदिग्ध लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मूल रूप से पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश के जिले के सिसौली गांव निवासी कार्तिक पुत्र योगेंद्र, भारतीय सेना की जाट रेजीमेंट तैनात था। वर्तमान में उसकी पोस्टिंग गुजरात में थी, जहां से वह बीते दिनों छुट्टियां लेकर अपने घर आया हुआ था। बताया गया है कि कार्तिक, गांव के ही अपने एक दोस्त ओमेंद्र पुत्र पवन सिंह के साथ बाइक पर कांवड़ लेने के लिए हरिद्वार आया था। मंगलवार को वापसी में जैसे ही दोनों दोस्त हाईवे पर नगला इमरती गांव के मोड़ पर बने फ्लाईओवर पर पहुंचे तो हरियाणा के कुछ कांवड़ियों के साथ उनका विवाद हो गया। देखते ही देखते हरियाणा के उन कांवड़ियों ने कार्तिक पर हमला कर दिया। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचीं पुलिस विभाग की टीम ने उसे उपचार के लिए नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां से हायर सेंटर ले जाते समय उसने दम तोड दिया। इस घटना से जहां मृतक फौजी के परिवार में कोहराम मचा हुआ है वहीं उसके गांव में भी मातम पसरा हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You missed