सबसे तेज खबर/पांवटा साहिब

उपमंडल पांवटा साहिब के सूरजपुर में स्थित जुनेजा चैरिटेबल हॉस्पिटल अब सरकार के पैनल में आ गया है।ये क्षेत्रवासियों के लिए बड़ी खुशी की बात है।

अब सरकारी कर्मचारी उनके परिवार तथा पेंशनर्स को स्वास्थ्य संबंधी जांच में राज्य सरकार के अंतर्गत मिलने वाली सुविधाओं का इस अस्पताल से पूरा लाभ प्राप्त होगा। क्षेत्र के लिए यह हर्ष का विषय है कि सरकार ने एक ऐसे अस्पताल को इमपैनल किया है जहां पर स्वास्थ्य संबंधी सभी सुविधाएं उपलब्ध है।

सरकार के इस निर्णय से पांवटा साहिब और आसपास के क्षेत्र के सरकारी कर्मचारी उनके परिजन तथा पेंशनर्स को अपने उपचार के लिए बाहरी राज्यों में नहीं जाना पड़ेगा। सरकार ने जैसी जुनेजा हॉस्पिटल सूरजपुर को अगले तीन साल के लिए इमपैनल किया है।

बता दें कि जगदीश चंद जुनेजा चैरिटेबल अस्पताल में जनरल मेडिसिन सहित पैलिएटिव मेडिसिन जनरल सर्जरी और अन्य सुविधाएं मौजूद है। यहां पर हर बीमारी के विशेषज्ञ चिकित्सक उपलब्ध है तथा आधुनिक मशीनों के साथ यहां पर उपचार किया जा रहा है।

यही कारण है कि थोड़े ही समय में यह अस्पताल ख्याति प्राप्त कर चुका है। यहां की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि चैरिटेबल अस्पताल होने के कारण यहां पर जो दवाइयां मिलती है उसकी कीमत बाजारी भाव से लगभग 5 से 7 गुना कम है। इससे आम जनता भी यहां पर आकर आसानी से अपना उपचार करवा सकती है।

अस्पताल प्रबंधन की तरफ से सतीश गोयल और आरपी तिवारी ने यह जानकारी देते हुए बताया कि अब जैसी जुनेजा चैरिटेबल अस्पताल सरकार के पैनल में आ गया है। जिससे सरकारी कर्मचारी उनके आश्रितों तथा पेंशनर्स को अपने उपचार के लिए अब बाहरी राज्यों में नहीं जाना पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You missed