चुनावी सरगर्मियों के बीच पांवटा विधानसभा से सुनील चौधरी के चुनावी रणक्षेत्र में उतरने की घोषणा के बाद उन्होंने कोटडी व्यास पंचायत देर रात समर्थन यात्रा की शुरुआत की, जिसमें उन्हें गांव की महिलाओं, बुजुर्गों और युवाओं का पूरा समर्थन मिला।


सुनील चौधरी ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि आज पांवटा विधानसभा में सबसे विकराल समस्या स्वास्थ्य व युवाओं की बेरोजगारी को लेकर है। पांवटा साहिब एक औद्योगिक क्षेत्र है जिसमें तीन सौ से अधिक निजी उद्योग स्थापित किए गए हैं। उसके बावजूद भी स्थानीय युवाओं को रोजगार नहीं मिल पा रहा है। अस्सी प्रतिशत युवाओं को रोजगार देने की शर्त पर स्थापित किए गए इन उद्योगों में केवल मात्र तीस से चालीस प्रतिशत ही युवाओं को रोजगार दिया जा रहा है, जो कि पांवटा के लोगो के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। सुनील चौधरी ने कहा कि अगर पांवटा क्षेत्र का सेवक के रूप में उन्हें नेतृत्व करने का अवसर मिलता है तो सबसे पहले स्वास्थ्य ,रोजगार व सरकारी शिक्षा को और अधिक सुदृढ़ करने का प्रयास किया जाएगा। क्षेत्र में कार्य के जाएगा वार्ड सदस्य विद्या देवी ने कहा कि आज क्षेत्र को एक युवा नेतृत्व की आवश्यकता है जिसके लिए हम समस्त ग्रामवासियों की तरफ से चुनाव के लिए समर्थन की घोषणा करते हैं।
स्थानीय निवासी हंसराज, मुलखराज ने कहा की वर्तमान समय में राजनीति कुछ एक लोगो के इर्द गिर्द घूूम रही हैं जो वर्तमान विधायक व ऊर्जा मंत्री से लोगो को मोहरा बना कर खुद को ही समृद्ध करने में जुटे हुए हैं, इसलिए उन्होंने कहा कि वर्तमान विधायक को को स्वयं ही युवा पीढ़ी को नेतृत्व सौंप देना चाहिए। इस बार पांवटा क्षेत्र की राजनीति क्षेत्र में बदलाव के स्वर गूंज रहे हैं इसलिए परिवर्तन तह माना जा रहा है।


इस मौके पर वार्ड सदस्य विधा देवी, नरेश चौधरी, हंसराज, राजेंद्र सिंह, गुरमीत सिंह, जगत राम, मुकेश कुमार, रामपाल, सुमेर कुमार, प्रेम कुमार, गीता देवी, शीला देवी, प्रेमकौर सहित युवा व अन्य ग्रामीण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You missed