महिला एशिया कप में भारत का मुकाबला मंगलवार (चार सितंबर) को यूएई से हो रहा है। बांग्लादेश के सिलहट में टीम इंडिया की कप्तान स्मृति मंधाना ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। भारतीय महिला टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया। 20 ओवर में टीम इंडिया ने पांच विकेट गंवाकर 178 रन बनाए। उसके लिए जेमिमा रोड्रिग्ज ने नाबाद 75 और दीप्ति शर्मा ने 64 रन की पारी खेली। जवाब में यूएई की टीम 20 ओवर में चार विकेट गंवाकर 74 रन ही बना सकी। इस मैच में हरमनप्रीत कौर नहीं खेल रही थीं। स्मृति मंधाना को कप्तानी सौंपी गई थी।

भारत को पहला झटका ऋचा घोष के रूप में लगा। वह पहले ही ओवर में आउट हो गईं। ऋचा को छाया मुगल ने प्रियांजलि जैन के हाथों कैच कराया। वह खाता भी नहीं खोल पाईं। उनके बाद एस. मेघना 12 गेंद पर 10 रन बनाकर आउट हो गई। उसके बाद दयालन हेमलता एक रन बनाकर आउट हो गईं।

19 रन पर तीन विकेट गिर जाने के बाद जेमिमा रोड्रिग्ज और दीप्ति शर्मा ने पारी को संभाला। दोनों ने चौथे विकेट के लिए 129 रन की साझेदारी की। दीप्ति ने 49 गेंद की पारी में पांच चौके और दो छक्के लगाए। वहीं, जेमिमा ने 45 गेंदों का सामना किया और 11 चौके लगाए। वह अंत तक नाबाद रहीं। पूजा वस्त्राकर ने 13 और किरण नवगिरे ने नाबाद 10 रनों का योगदान दिया।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी यूएई की टीम की शुरुआत खराब रही। पांच रन पर टीम ने तीन विकेट गंवा दिए थे। तीर्थ सतीश एक रन, ईशा रोहित ओजा चार रन और नताशआ चेरिएथ खाता खोले बिना पवेलियन लौटीं। इसके बाद कविशा एगोडेज और खुशी शर्मा ने चौथे विकेट के लिए 58 रन की साझेदारी निभाई। खुशी 29 रन बनाकर आउट हुईं। इसके बाद कविश 30 रन और छाया मुगर छह रन बनाकर नाबाद रहीं। भारत की ओर से राजेश्वर गायकवाड़ ने दो विकेट लिए। वहीं, हेमलता को एक विकेट मिला।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You missed