शिमला में सेब आढ़ती के साथ करीब 94.70 लाख रुपए की धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। इस मामले में चिड़गांव थाना में एफआईआर दर्ज करवाई गई है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आरोपी भी सेब व्यापारी है और दिल्ली का रहने वाला है। आरोपी ने अगस्त, 2022 में आढ़ती से 3 करोड़ के सेब की पेटियां खरीदी थीं।

पुलिस में दर्ज एफआईआर के अनुसार शिकायतकर्ता ने कहा है कि वह मैसर्ज नारायण फॉरवर्डिंग एजैंसी और नारायण फ्रूट कंपनी चिड़गांव, मांडली के नाम से सेब का कारोबार करता है। सेब सीजन के दौरान अगस्त, 2022 में रामचंद्र नाम के व्यक्ति जिसकी मैसर्ज राम चंद्र सूरज एंड सन्स नाम से दुकान है और रोहिणी उत्तर पश्चिम दिल्ली का रहने वाला है, उसने साथ काम करने का प्रस्ताव दिया।

शिकायतकर्ता के अनुसार सेब सीजन के दौरान आरोपी ने 3 करोड़ रुपए के सेब खरीदे। उसने 2 करोड़ रुपए की पेमैंट तो कर दी लेकिन 1 करोड़ की नहीं की। इसके बाद हिसाब लगाया गया तो आरोपी पर 94,70,000 रुपए बकाया था। आरोप है कि इसके बाद उक्त आरोपी ने 2 चैक शिकायतकर्ता को दिए, जिसमें एक चैक 50 लाख और दूसरा चैक 44 लाख 70 हजार 402 रुपए का था। ये दोनों चैक बाऊंस हो गए।

उधर, मामले को लेकर शिमला पुलिस का कहना है कि धोखाधड़ी के इस मामले में जल्द आरोपी की गिरफ्तारी होगी। पुलिस आरोपी को पकड़ने के लिए टीमें गठित कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You missed