बहुउद्देशीय परियोजनाएं एवं ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी ने आज पांवटा साहिब विधानसभा क्षेत्र के प्रवास के दौरान ग्राम पंचायत अमरकोट के ग्राम गोंदपुर में नए पटवार वृत तथा नए राजकीय प्राथमिक पाठशाला गोंदपुर का शुभारम्भ किया।
इस अवसर पर जनसभा को सम्बोधित करते हुए ऊर्जा मंत्री ने कहा कि गोंदपुर में पटवार वृत खुल जाने से अमरकोट पंचायत तथा निहालगड़ पंचायत के लोग लाभान्वित होंगे। उन्होंने कहा की अमरकोट पंचायत के लोगों को इससे पहले तारूवाला पटवार सर्कल जाना पड़ता था। सर्कल में एरिया अधिक होने की वजह से असुविधा का सामना भी करना पड़ता था। इसी प्रकार निहालगड़ के लोगों को अपने कार्यों के लिए अजोली जाना पड़ता था। अब इन दोनों पंचायतों का एक पटवार सर्कल बनने से इन पंचायतों के लोगों को असुविधा का सामना नहीं करना पड़ेगा तथा उनके कार्य भी शीघ्र होंगे।
ऊर्जा मंत्री ने कहा कि गोंदपुर में राजकीय प्राथमिक पाठशाला खुलने से पहले बच्चों को पढ़ाई के लिए लगभग अढाई किलोमीटर दूर तारूवाला जाना पड़ता था। सड़क पर यातायात अधिक होने के कारण उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ता था, परंतु अब उन्हें घर द्वार पर यह सुविधा उपलब्ध होगी।
उन्होंने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि उनके नेतृत्व में पांवटा साहिब विधान सभा क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास हो रहा है, जिसके फलस्वरूप यह क्षेत्र हर दिशा में प्रगति के पथ पर अग्रसर है।
उन्होंने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार का कार्यकाल उपलब्धियों से भरा रहा है। उन्होंने कहा कि समाज के कमजोर वर्गों के लिए मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना, सहारा योजना, हिमकेयर, शगुन योजना जैसी कई योजनाएं वरदान साबित हो रही हैं।
उन्होंने प्रदेश सरकर द्वारा चलाई जा रही विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए बताया कि यह योजनाएं प्रदेश के जरूरतमंद परिवारों की आवश्यकताओं की पूर्ति में सहायक सिद्ध हो रही हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार ने सामाजिक सुरक्षा पेंशन में उल्लेखनीय वृद्धि की है और बिना आय सीमा के वृद्धावस्था पेंशन प्राप्त करने की आयु सीमा को पहले 80 वर्ष से घटाकर 70 वर्ष और अब 60 वर्ष कर दिया है।
ऊर्जा मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार महिला सशक्तिकरण और उनके उत्थान पर विशेष बल दे रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना के तहत निशुल्क गैस कनेक्शन वितरित किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि गृहिणी सुविधा योजना के लाभार्थियों को दो अतिरिक्त रीफिल सिलेंडर भी निःशुल्क प्रदान किए जा रहे हैं।अब प्रदेश के हर घर में एलपीजी कनेक्शन उपलब्ध है और यह देश का पहला चूल्हा धुआंमुक्त राज्य बन गया है। इसके अतिरिक्त प्रदेश सरकार ने हिमाचल पथ परिवहन निगम की बसों में महिलाओं को बस किराए में 50 प्रतिशत की छूट प्रदान की है और घरेलू विद्युत उपभोक्ताओं को प्रतिमाह 125 यूनिट तक निःशुल्क बिजली प्रदान की जा रही है। उन्होंने कहा कि किसानों को 50 पैसे प्रति यूनिट के स्थान पर अब केवल 30 पैसे प्रति यूनिट की दर से विद्युत प्रदान की जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में निःशुल्क पेयजल भी उपलब्ध करवा रही है।
इस अवसर पर सचिव OBC मोर्चा हिमाचल प्रदेश सुभाष चौधरी, सदस्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड राहुल चौधरी, पूर्व प्रधान राकेश महरालू, नायब तहसीलदार रामभज, बीईईओ प्रणीत कौर, बीआरसी पूर्ण तोमर सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं स्थानीय गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.